UPS क्या है? (UPS in Hindi)

UPS क्या है?

परिभाषा :- UPS जिसका पूरा नाम Uninterrupted Power Supply है जिसे हिंदी में “अबाधित विद्युत आपूर्ति” कहते है। ये एक प्रकार की device है जो बिजली चले जाने पर कंप्यूटर या अन्य इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को Power Supply प्रदान करती है। इसके अंदर एक बैटरी होती है जो कंप्यूटर को 15 से 30 मिनट या उससे भी अधिक तक Power Backup दे सकता है

UPS के भाग :-

एक UPS के महत्वपूर्ण भाग निम्न प्रकार से हैं –

  1. Rectifier (Battery Charger) – एक रेक्टिफायर अल्टरनेटिंग करंट (AC) को डायरेक्ट करंट (DC) में बदल देता है। इसका सामान्य कार्य बैटरी चार्ज करना और उन्हें अनुकूलतम स्थिति में रखना है, साथ ही अन्य लोड के लिए डीसी पावर प्रदान करना है।
  2. Static ByPass or Switch or Contactor – जब यूपीएस सिस्टम में आंतरिक दोष या विफलता होती है तो एक स्थिर बाईपास स्विच स्वचालित रूप से लोड को मुख्य बिजली आपूर्ति में स्थानांतरित कर देता है। यह एक ऑनलाइन यूपीएस की एक सामान्य विशेषता है
  3. Battery – बैटरी एक electro chemical सेल है जिसे विदयुत के लिए चार्ज किया जाता हे। जब कोई इलेक्ट्रिक पावर सप्‍लाई कर रही होती है, तो उस‍का पॅाजिटिव टर्मिनल कैथौड होता है। और इसका नेगेटिव टर्मिनल एनोड होता है।
  4. Inverter – यह भी एक electrical device है जो rectifier प्रोसेस का उल्टा कार्य करता हैं। यह लोड के उपयोग के लिए आनेवाले DC सप्‍लाई को AC में कन्‍वर्ट करता हैं। जो low voltage DC को high voltage AC में कन्‍वर्ट करती है। जो एक solar electric system में, एक इन्‍वर्टर 12, 24 या 48 वोल्‍ट डीसी ले सकता है। और इसे 115 या 230 एसी, घरेलू बिजली में कन्‍वर्ट करता है।

UPS के प्रकार :-

  • Standby UPS – स्टैंडबाय यूपीएस एक ऑफ़लाइन इकाई है जो विद्युत विफलता का पता लगा सकती है और स्वचालित रूप से बैटरी पावर पर स्विच कर सकती है। दो अन्य यूपीएस श्रेणियां लाइन इंटरएक्टिव और ऑनलाइन डिवाइस हैं, जिनमें ऑनलाइन अधिक महंगा विकल्प है। जब बिजली उपलब्ध नहीं होती है तो प्रत्येक प्रकार का यूपीएस नेटवर्क उपकरणों को चालू रखता है।
  • Line Interactive UPS – एक लाइन-इंटरैक्टिव यूपीएस इन्वर्टर को लाइन में रखता है और बैटरी के DC करंट पथ को सामान्य चार्जिंग मोड से चालू करने के लिए पुनर्निर्देशित करता है जब बिजली खो जाती है। इस डिजाइन में, बैटरी-टू-AC पावर इन्वर्टर हमेशा यूपीएस के आउटपुट से जुड़ा होता है।
  • Standby online hybrid – स्टैंडबाय ऑनलाइन हाइब्रिड यूपीएस, जिसे मांग पर दोहरा रूपांतरण भी कहा जाता है, वास्तविक ऑनलाइन यूपीएस के समान है, लेकिन उच्च ऊर्जा दक्षता के साथ। महत्वपूर्ण अंतर यह है कि स्टैंडबाय ऑनलाइन हाइब्रिड यूपीएस लोड सीधे उपयोगिता शक्ति से परोसा जाता है जब तक कि बिजली स्वीकार्य सहनशीलता के भीतर हो।

UPS के कार्य –

UPS के प्रमुख कार्य निम्न प्रकार हैं –

  • पीएस कंप्यूटर सिस्टम में क्षति होने से सुरक्षा प्रदान करता है.
  • यूपीएस शॉर्ट सर्किट से हमारे सिस्टम को बचाता है.
  • यूपीएस बिजली की आपूर्ति की स्थिति में डिवाइस को Power Supply करता है.
  • यूपीएस एक प्रकार के अस्थिर सोर्स से पावर को नियंत्रित करता है.
  • यूपीएस कंप्यूटर उपयोगकर्ताओं को कंप्यूटर को सही ढंग से स्विच करने और कंप्यूटर को Battery देने में सक्षम है.
  • यूपीएस कंप्यूटर सिस्टम में अकुशल स्थितियों में अलर्ट भी देता है.

UPS के फायदे :-

UPS के निम्न फायदे हैं –

  1. पावर आउटेज की स्थिति में सभी कम्‍प्‍यूटर और इलेक्ट्रिक सिस्‍टम को व्यवस्थित करता हैं ।
  2. बैकअप जनरेट करने के विपरित, एक UPS मे लगभग कोई शोर आउटपुट नही होता है।
  3. एक UPS में बिजली का डिवाइस अगर चलने पर रूक जाये तो भी आपका डेटा सुरक्षित रहता है।
  4. UPS इकाइयां ईको फ्रेंडली होती है और बैटरी पर चलती है जो पांच साल तक चल स‍कती है|
  5. अचानक कम्‍प्‍यूटर के बंद होने पर डेटा loss हो जाता है। लेकिन अगर कम्‍प्‍यूटर मे UPS कनेक्‍ट है तो डेटा सुरक्षित रहता है।

UPS के नुकसान :-

UPS के कुछ नुकसान निम्न हैं –

  1. साधारण यूपीएस बैटरी अधिक लंबे समय तक नहीं चल सकती आवश्यकता होने पर हमें इसे बदलना भी पड़ता है।
  2. यूपीएस सिस्टम में यूपीएस बैटरी को अधिक समय तक चार्ज रखना पड़ता है नहीं तो वह कुछ अच्छा खासा बैकअप नहीं दे पाती है।

UPS FAQ

UPS किसके लिए प्रयोग किया जाता है?

अनइंटरप्टिबल पावर सप्लाई (UPS) एक ऐसा उपकरण है जो आने वाली बिजली बाधित होने पर कंप्यूटर को कम से कम थोड़े समय के लिए चालू रखने की अनुमति देता है।

यूपीएस के मतलब क्या होता है?

UPS का मतलब या फुल फॉर्म Uninterruptible power supply (अनइंटरप्टिबल पावर सप्लाई) होता है

यूपीएस कितने प्रकार के होते हैं?

यूपीएस तीन प्रकार के होते हैं (1) Standby UPS. (2) Line Interactive UPS. (3) Online UPS.

यूपीएस का वर्गीकरण क्या है

UPS सिस्टम को तीन सामान्य प्रकार के स्टैटिक, रोटरी और हाइब्रिड स्टैटिक/रोटरी सिस्टम में वर्गीकृत किया गया है।

दोस्तों, यदि आपको UPS क्या है? पोस्ट अच्छी लगी हो तो कमेंट व शेयर करें।

Leave a Comment