त्रिभुज किसे कहते हैं? परिभाषा, प्रकार

त्रिभुज किसे कहते हैं?

परिभाषा: तीन भुजाओं से बनी एक बन्द आकृति को त्रिभुज कहते हैं। त्रिभुज में 3 भुजाएँ, 3 कोण और 3 ही शीर्ष होते हैं। त्रिभुज सबसे कम भुजाओं से बनने वाली एक बन्द आकृति (बहुभुज) है। त्रिभुज के तीनों आन्तरिक कोणों का योग 180° होता है।

त्रिभुज क्या है?

यह एक तीन भुजाओं वाला बहुभुज होता है जिसमें तीन कोने होते हैं और इसके तीनों कोनों का योग 180 डिग्री होता है। त्रिभुज के बाहरी कोणों का योग 360° होता है और आंतरिक कोणों का योग 180 डिग्री  होता है।

त्रिभुज कितने प्रकार के होते हैं?

(A) भुजाओं की माप के अनुसार

त्रिभुज, भुजाओं की माप के अनुसार तीन प्रकार के होते हैं, जो कि निम्न प्रकार से है।

1. समबाहु त्रिभुज

ऐसा त्रिभुज, जिसकी तीनों भुजाओं की लंबाई बराबर होती हैं, उस त्रिभुज को समबाहु त्रिभुज कहते हैं।

2. विषमबाहु त्रिभुज

ऐसा त्रिभुज, जिसकी तीनों भुजाओं की लंबाई अलग-अलग होती है, उस त्रिभुज को विषमबाहु त्रिभुज कहते हैं।

3. समद्विबाहु त्रिभुज

ऐसा त्रिभुज, जिसकी कोई दो भुजाओं की लंबाई बराबर होती है और तीसरी भुजा की लंबाई अलग होती है, उस त्रिभुज को समद्विबाहु त्रिभुज कहते हैं।

(B) कोणों की माप के अनुसार

त्रिभुज, कोणों की माप के अनुसार तीन प्रकार के होते हैं, जिसके बारे में नीचे बताया है।

1. समकोण त्रिभुज

ऐसा त्रिभुज, जिसके किसी एक कोण का मान 90 डिग्री होता है, उसे समकोण त्रिभुज कहते हैं।

2. न्यूनकोण त्रिभुज

ऐसा त्रिभुज, जिसके प्रत्येक कोण का मान 90 डिग्री से कम होता है, उसे न्यूनकोण त्रिभुज कहते हैं।

3. अधिककोण त्रिभुज

ऐसा त्रिभुज, जिसके किसी एक कोण का मान 90 डिग्री से अधिक होता है, उसे अधिककोण त्रिभुज कहते हैं।

Leave a Comment