कोण कितने प्रकार के होते हैं?

कोण के प्रकार (Types Of Angles)

  1. शून्य कोण (Zero Angle)
  2. न्यून कोण (Acute Angle)
  3. समकोण (Right Angle)
  4. अधिक कोण (Obtuse Angle)
  5. ऋजु कोण (Straight Angle)
  6. बृहत कोण (Reflex Angle)
  7. सम्पूर्ण कोण (Complete angle)
  8. संपूरक कोण (supplymentary angle)
  9. पूरक कोण(complementary Angle)

कोण कितने प्रकार के होते हैं?

1. शून्य कोण (Zero Angle) :- यदि कोण बनाने वाली दोनों किरणों के मध्य का झुकाव शून्य हो तो ऐसे कोण को शून्यकोण कहते हैं।

2. न्यून कोण (Acute Angle) :- ऐसा कोण जो शून्य से बड़ा परन्तु 90° से छोटा हो न्यूनकोण कहलाता है।

3. समकोण (Right Angle) :- 90° का कोण समकोण कहलाता हैं।

समकोण की परिभाषा- ऐसा कोण जिसे बनाने वाली दोनों किरणों के मध्य का झुकाव 90° हो समकोण कहलाता है।

4. अधिक कोण (Obtuse Angle) :- ऐसा कोण जो 90° से बड़ा परन्तु 180° से छोटा हो अधिककोण कहलाता है।

5. ऋजु कोण (Straight Angle) :- 180° का कोण ऋजुकोण कहलाता हैं।

ऋजु कोण की परिभाषा- ऐसा कोण जिसे बनाने वाली दोनों किरणें एक दूसरे की विपरीत दिशा में हो, ऋजुकोण कहलाता है।

6. वृहत कोण (Reflex Angle) :- ऐसा कोण जो 180° से बड़ा परन्तु 360° से छोटा हो वृहत कोण कहलाता है।

7. सम्पूर्ण कोण (Complete angle) :- 360° का कोण सम्पूर्ण कोण कहलाता हैं।

सम्पूर्ण कोण की परिभाषा- यदि कोण बनाने वाली दोनों किरणों के मध्य का झुकाव 360° हो तो ऐसे कोण को सम्पूर्णकोण कहते हैं।

8. संपूरक कोण (supplymentary angle) :- यदि किन्ही दो कोणों का योग 180° हो तो उसे संपूरक कोण कहते हैं

9. पूरक कोण (complementary Angle) :- दो कोणों का योग समकोण के बराबर हो तो ऐसे कोणों को “पूरक कोण” कहते है

8 thoughts on “कोण कितने प्रकार के होते हैं?”

  1. This website is to useful for students and I always support this website
    Thank you for this information 😀😀😀😀😀😀😀😀😀

    Reply
  2. 😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😔😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😔😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘😔😘😘😘😘😘😘😘😘😘😘

    Reply

Leave a Comment